UT wordmark
College of Liberal Arts wordmark

Dr. Vimal K. Modi - 02: Naturopathy

mediaURI: 
About This Lesson: 
Dr. Vimal Kumar Modi speaks about the differences in allopathy and naturopoathy, and his motivation for pursuing naturopathy.
vocabulary (hindi): 

रोग 

Disease

जीवन पर्यन्त दवा खानी

Life-long intake of medication

मुक्ति

Free, liberation

नुकसान

Harmful

शरीर में कचरा

Garbage in the body

विधि

Way

रोग निवारण

Curing the disease

समाज सेवा

Social service

रोगियों की सेवा

Service to the patients

फेरबदल

Change/ modification

transcription (hindi): 

डॉक्टर साहब आपका ज्ञान दो तरफा है... आपने ऐलोपैथी का ज्ञान भी लिया है और प्राकृतिक चिकित्सा की जहां बात आती है, उसका भी... दोनों में फर्क कुछ नज़र आता है क्या?

सौभाग्य से मेरा प्रवेश गोरखपुर के मैडिकल कॉलेज में हो गया... मैं घर पर रहकर ही ऐलोपैथी की शिक्षा लेता रहा... और एलोपैथी में मैंने ये पाया कि कुछ रोग ऐसे हैं जिनको जीवन-पर्यंत दवा खानी होती है... प्राकृतिक चिकित्सा में मैं ये देखता था कि अगर प्राकृतिक जीवन अपनाया जाये तो उन रोगों से मुक्ति पाई जा सकती है... एलोपैथिक दवा में सबसे बड़ी नुकसान ये है कि हर एलोपैथी दवा 45 प्रतिशत नुकसान करती है और 55 प्रतिशत लाभ करती है... और जो नुकसान करती है वो शरीर में कचरा इकट्ठा होता है और नये रोग को जनम देता है... प्राकृतिक चिकित्सा में ऐसी कोई बात नहीं है... कोई ऐसी विधि नहीं है कि नुकसान हो सके... तो जो भी प्राकृतिक चिकित्सा करता है, प्राकृतिक जीवन अपनाता है, उसे लाभ ही लाभ होता है... इसलिये मैंने ये पाया कि मुझे प्राकृतिक चिकित्सा करनी चाहिये, प्राकृतिक चिकित्सक बनना चाहिये... दूसरा उद्देश्य ये भी था कि ऐलोपैथ तो बहुत हैं, प्राकृतिक चिकित्सक बहुत कम हैं... हमारा उद्देश्य रोग-निवारण का है... जो एलोपैथी नहीं कर पा रही है वो हमें करने का सौभाग्य मिल रहा है... मैं ऐसे घर में पैदा हुआ इसलिये मैंने ये सोचा कि मुझे प्राकृतिक चिकित्सक ही बनकर समाजसेवा, रोगियों की सेवा करनी चाहिये...

exercise (hindi): 

1) डॉ० मोदी के अनुसार एलोपैथी, प्राकृतिक चिकित्सा से किस प्रकार अलग है?

१) कुछ रोगों में ऐलोपैथिक दवा सारी उम्र खानी पड़ती है।

२) ऐलोपैथिक दवा नए रोग को जन्म नहीं देती है।

३) ऐलोपैथिक से बीमारी बहुत जल्दी खत्म हो जाती है।

४) ऐलोपैथिक ९९% फ़ायदा करती है।

2) डॉ० मोदी प्राकृतिक चिकित्सा क्यों करना चाहते थे?

१) शरीर से रोगों का निवारण हो जाए।

२) मरीज़ प्रकृति का आनंद ले सके।

३) मरीज़ दवाएँ न खाए।

४) जिससे की मरीज़ जल्दी ठीक हो जाए।

vocabulary (urdu): 

content under development

transcription (urdu): 

content under development

exercise (urdu): 

content under development