UT wordmark
College of Liberal Arts wordmark

Doctor-Patient Interaction - Warm water Foot Bath

mediaURI: 
About This Lesson: 
Mr. Vineet kumar Sharma demonstrates the proper way of conducting a foot bath event.
vocabulary (hindi): 

बीमारी

 

Illness

पीडित

पीड़ित

Suffering

ईलाज

इलाज

Treatment

पैर

 

Leg

गर्म नहान

 

Warm bath

गर्म कंबल

 

Warm blanket

बाल्टी

 

Bucket

गर्म पानी

 

Warm water

सूती चादर

 

Cotton sheet

पूरी तरह से इनके शरीर पर ढंक जाये

ढक

Something which covers the whole body

चुभन

 

Prick/lingering

रैप

 

Wrap

लपेटते

 

Wrap

ढक

 

Cover

सर को गीला करने के बाद

 

After taking a head bath

ठंडे पानी से भीगा तौलिया

 

Wet towel soaked with cold water

सर

 

Head

तापमान

 

Temperature

गर्म नहान

 

Warm bath

रक्त की धमनियों

 

Arteries of blood

फैलाव

 

Spread

शरीर के ऊपर के हिस्से

 

Upper parts of the body

रक्त का संचालन

 

Blood flow

रक्त का दबाव

 

Blood pressure

बीमारियां

 

Illnesses

संबंधित

 

Related

सर्दी

 

Winter

जुकाम

 

Cold

दमा

 

Asthama

रक्तचाप

 

Blood pressure

ब्लड प्रैशर

 

Blood pressure

उपचार

 

Treatment

transcription (hindi): 

ये मिराज अहमद जी हैं... ये सांस फूलने की बीमारी से पीडित हैं... और हमारे पास लाज के लिये आये हैं... इनको जो हम लाज देने जा रहे हैं उसे पैर का गर्म नहान कहते हैं... ये पैर का गर्म नहान, हमने एक कुर्सी पर एक गर्म कंबल बिछाया हुआ है... उस पर इनको हम बैठायेंगे... और ये एक बाल्टी है, इस बाल्टी में गर्म पानी है... ये पानी लगभग 112 से 115 डिग्री फैरनहाई के आसपास होता है... कुर्सी पर बैठाने के बाद हम एक, सफेद, ये सूती चादर है, इस चादर को इनके चारों तरफ इस तरह से रैप करते हैं कि ये पूरी तरह से इनके शरीर पर ढँक जाये... और जो कंबल है नीचे उसकी चुभन इनको ना लगे... इसके बाद हम ये कंबल इनके चारों तरफ रैप करने से पहले इनके पैर इस गर्म पानी में रखवा देते हैं... कंबल रैप करते समय कंबल को अच्छी तरह से इस तरह लपेटते हैं कि ये बाल्टी पूरी तरह कंबल से ढँक जाये... इसके बाद एक रैक्सीन का कवर होता है... इस कवर को हम आखिर में इनके ऊपर से लगा देते हैं... अब हमने इनको रैक्सीन से अच्छी तरह से हमने ढँक दिया... इसको बांधने के बाद इस बाल्टी में ठंडा पानी और इस बाल्टी में गर्म पानी... ये जो गर्म पानी है ये लगभग 120 डिग्री फारेनहाई के आसपास होता है...

इस ठंडे पानी से इनके सर को गीला करने के बाद, ये ठंडे पानी से भीगा तौलिया इनके सर के ऊपर रख दिया जाता है... पानी का तापमान एक जैसा बना रहे इसके लिये थोड़ी थोड़ी देर में कंबल को हटाकर गर्म पानी सावधानी पूर्वक मिलाते रहते हैं... इसमें इस चीज का ध्यान रखना पड़ता है कि पानी गिराते समय जो पेशैंट है, उनके पैर न जलने पायें...पैरों के गर्म नहान से पैर की रक्त की धमनियों में फैलाव होता है... और इस फैलाव की वजह से शरीर के ऊपर के हिस्से का रक्त  पैरों की तरफ जाना शुरू हो जाता है... पैरों में रक्त का संचालन बढ़ जाता है और शरीर के ऊपरी हिस्से में रक्त का दबाव कम होने लगता है... तो विशेष रूप से ऐसी बीमारियां, जो शरीर के ऊपरी भाग से संबंधित होती हैं, जैसी सर्दी है, जुकाम है, दमा है और रक्तचाप है, यानि कि ब्लड प्रैशर... उन, ऐसी सब बीमारियों में इस उपचार से बहुत लाभ होता है...

exercise (hindi): 

1) मिराज़ अहमद जी को क्या बीमारी है?

१) दिल के मरीज़ हैं

२) जोड़ों की बीमारी है

३) सांस फूलने की बीमारी है

४) बहुत बात करने की बीमारी है

2) मिराज़ अहमद का क्या इलाज किया जा रहा है?

१) दवा दी जा रही है

२) मालिश की जा रही है

३) पैर का गर्म नहान दिया जा रहा है

४) जड़ी बूटी दी जा रही है

3) पैर के गर्म नहान में क्या करते हैं?

१) कुर्सी पर गर्म कंबल बिछाते हैं

२) बाल्टी में गर्म पानी भरते हैं

३) चादर को लपेटते हैं

४) सब

4) पैरों के गर्म नहान में किस बात का ध्यान रखना पड़ता है?

१) पानी गिरते समय पेशैंट के पैर न जले

२) पानी का तापमान पचास डिग्री फ़ारेनहाईट के आसपास हो

३) पहले सर को ठंडे पानी से गीला करें

४) सर पर गर्म पानी से भीगा तौलिया रखें

5) गर्म पानी के नहान के उपचार से किन रोगों में फ़र्क पड़ता है?

१) जुकाम

२) दमा

३) रक्तचाप

४) सब

vocabulary (urdu): 

Content Under Development.

transcription (urdu): 

Content Under Development.

exercise (urdu): 

Content Under Development.