UT wordmark
College of Liberal Arts wordmark

Dentistry

Dental Problem

mediaURI: 
About This Lesson: 
Prabhavati's husband talks about his recurring dental problem.
vocabulary (hindi): 

पान

 

Betel Leaf

बीड़ी 

 

Hand rolled cigarette

तंबाकू

 

Tobacco

पुकार

 

A kind of a tobacco

मलते

 

To rub

transcription (hindi): 

तो कभी आपको पान, बीड़ी, तंबाकू की आदत?

नहीं है... कुछ नहीं है... यही तो हमारी खासियत है शरीर में, कि ना पान खाते हैं, ना पुकार खाते हैं, ना कुछ भी खाते नहीं हैं...

तो दांत किससे मलते हैं आप?

दांत, जैसे कोलगेट है...

ब्रश यूज करते हैं?

हां...

ब्रश का इस्तेमाल करते हैं?

हां...

तब भी आपको ये तकलीफ हो गई?

हो...

चलिये हम उम्मीद करते हैं कि तकलीफ आपकी ठीक हो...

exercise (hindi): 

1) मरीज़ दाँत की सफ़ाई किस से करते हैं?

१) ब्रश से

२) अंगुली से

३) नीम से

४) मंजन से

vocabulary (urdu): 

Content Under Development.

transcription (urdu): 

Content Under Development.

exercise (urdu): 

Content Under Development.

Dentistry - Dr. Sanjeev Gulati: 8

mediaURI: 
About This Lesson: 
Dr. Sanjeev Gulati explains the fee structure.
vocabulary (hindi): 

निर्धारण 

 

Fix

ओ.पी.डी. 

 

O.P.D

चार्जेज़

 

Charges

ट्रीटमेंट

 

Treatment

जनरल फीस

 

General Fees

ट्रीटमेंट प्लान

 

Treatment Plan

सुविधायें

 

Facilities/benefit

ऑर्थोडौंटिस्ट

 

Orthodontist

टेढ़े मेढ़े दांत

 

Irregular teeth

ओरल सर्जन

 

Oral surgeon

फ्रैक्चर केसिज

 

Fracture cases

सिस्ट

 

Cist

ट्यूमर

 

Tumor

डेंटिस्ट्री

 

Dentistry

मेजर ऑपरेशन

 

Major operation

नर्सिंग

 

Nursing

transcription (hindi): 

अंतिम दो सवाल डॉक्टर साहब... यहां पर आपके हॉस्पीटल में आप फीस का निर्धारण कैसे करते हैं? किस, क्या ये कुछ ओ.पी.डी. का सिस्टम है या क्या, कैसे करते हैं?

नहीं, ओ.पी.डी. तो है ही है... प्लस चार्जेज़ तो डिपैंड करते हैं कि क्या ट्रीटमेंट होना है पेशैंट का... उसके ऊपर चार्जेज़ डिपैंड करते हैं... बाकी जनरल फ़ीस तो ली ही जायेगी... और अगर, जो ट्रीटमेंट प्लान हम कर रहे हैं उस, हर ट्रीटमेंट प्लान में कुछ चार्जेज़ होंगे... तो पेशैंट को सजैस्ट करेंगे कि हम ये ट्रीटमेंट प्लान कर रहे हैं... ये ट्रीटमेंट आपके लिये करेंगे और इसके इतने चार्जेज़ हैं...

तो क्या क्या सुविधाएँ आप यहां पर दे पाते हैं दांतों के...

हमारे यहां पे करीब करीब सभी चीजें होती हैं... और हमारे यहां पर विजिटिंग ऑर्थोडेंटिस्ट भी हैं, जो टेढ़े- मेढ़े दाँत और उभरे दांत, ये सब ठीक करने के लिये विजिटिंग ओरल सर्जन हैं, जो कि तमाम जो फ़्रैक्चर केसेज़ हैं, और जो सिस्ट हैं, ट्यूमर हैं, उसको ऑपरेट करने के लिये... उसके अलावा हमारे यहां पर बाकी सभी ब्रांचिस जो डेंटिस्ट्री की हैं वो सब हमारे यहां पर होती हैं...

जो आप कह रहे थे कि ऑपरेशन जिनका करना होता है, कोई मेजर ऑपरेशन मुंह का अगर करना हो दांतों का...

हूं... हूं...

उसकी सुविधा भी आपके यहां मिल जाती है?

हां, हमारे यहां नर्सिंग होम है बगल में, हम लोग अपना वहां पे कराते हैं...

बहुत बहुत धन्यवाद डॉक्टर साहब आपका... बहुत बहुत धन्यवाद... Thank you so much...

You are welcome… welcome…

exercise (hindi): 

1) फ़ीस कैसे निर्धारित की जाती है?

१) जनरल फ़ीस ली जाती है

२) ट्रीटमैंट प्लान के अनुसार ली जाती है

३) हर ट्रीट्मैंट के लिये एक से चार्जिज़ होते हैं

४) सभी के आधार पर

vocabulary (urdu): 

content under development

transcription (urdu): 

content under development

exercise (urdu): 

content under development

Dentistry - Dr. Sanjeev Gulati: 7

mediaURI: 
About This Lesson: 
Dr. Sanjeev Gulati talks about plaque.
vocabulary (hindi): 

प्लाक 

 

plaque

फिरायेंगे 

 

Move fingers to feel

झिल्ली

 

A thin covering or layer

कुल्ला

 

Rinsing/washing

बैक्टीरियल फिल्म

 

Bacterial film

सलाईवा

 

Saliva

कैल्कुलस

 

Calculus

आलसीपने

 

Due to Laziness

असर

 

Effect

मसूढ़े

 

Gums

फूलने

 

Swelled up

मवाद

 

Pus/matter

पायरिया

 

Pyorrhea

transcription (hindi): 

उसका एक बार बार हम सुनते हैं प्लाक, प्लाक... ये प्लाक है क्या?

जब भी रात को हम लोग सो जाते हैं तो सुबह उठते हैं... सोने के बाद आप जब सुबह उठेंगे तो अपने दांतों के ऊपर अगर आप ऐसे ऊंगली फिराएँगे तो एक पतली सी झिल्ली आपको महसूस होगी... अगर आप सुबह उठने के बाद बिना कुल्ला किये अगर आप ऐसे फैलायें दांत को, ऊंगली फैलायें दांत पे, तो ऐसा लगेगा एक पतली सी झिल्ली है दांतों के ऊपर... ये फिल्म जो है, झिल्ली जो है, इसी को प्लाक कहते हैं... ये एक पतली सी बैक्टीरियल फ़िल्म बन जाती है रोज सुबह... रात, रात में जब आप सो रहे होते हैं, उस समय mouth at rest होता है... उस समय सलाइवा की मदद से ये एक पतली सी झिल्ली बन जाती है और ये बैक्टीरियल फिल्म को ही हमको रोज ब्रश से छुड़ाना है... इसी को प्लाक कहते हैं... इस प्लाक को हमको डेली ब्रश से साफ कर देना है...

तो जो प्लाक अगर ठीक तरह से ना निकले...

नहीं निकलेगा तो फिर ये हार्ड, हार्डन कर जायेगा... हार्डन जब कर जायेगा तो वो कैल्कुलस में कनवर्ट हो जायेगा... उसको फिर छुड़ाना मुश्किल है ब्रश से... फिर उसके लिये आपको डैन्टिस्ट के पास जा करके कैल्कुलस को साफ कराना पड़ेगा...

और अगर साफ अगर ठीक तरह से ना हो... अगर आप उसको अपनी या तो आलसीपने से या ये सोच के कि पता नहीं उसके बारे में, आप अगर उसको नहीं करें तो इसका क्या असर पड़ता है?

तो धीरे धीरे फिर वो मैल जो जम जायेगा, जब वो हार्ड हो जायेगा, तो फिर बगल के मसूढ़े फूलने लगेंगे... वहां से खून आयेगा, फिर मवाद आयेगा, फिर पायरिया होने लगेगा, फिर दांत हिलने लगेंगे... आगे की, ज्यादा जब स्टेज बढ़ जायेगी तब... ये सब चीजें शुरू हो जायेंगी...

exercise (hindi): 

1) प्लाक क्या होता है?

१) दाँत के बीच में फंसा खाना

२) सुबह उठने के बाद दांतों पर पतली सी झिल्ली

३) दांतों पर पीलापन

४) दांतों का टूटना

2) दांतों पर प्लाक जम जाने से क्या होता है?

१) मसूड़े से मवाद निकलता है

२) मसूड़े फूल जाते हैं

३) मसूढ़े से खून निकलता है

४) सब

vocabulary (urdu): 

content under development

transcription (urdu): 

content under development

exercise (urdu): 

content under development

Dentistry - Dr. Sanjeev Gulati: 6

mediaURI: 
About This Lesson: 
Dr. Sanjeev Gulati talks about various kinds of tooth-brushes to use.
vocabulary (hindi): 

ब्रश 

 

Brush

सीधे ब्रिसिल्स 

 

Straight bristles

टेढे मेढे ब्रिसिल्स

 

Curved/bent bristles

ऊबड़-खाबड़ टाईप

 

Crooked type

हार्ड ब्रश

 

Hard brush

दांत कट जाते

 

Bone loss around teeth

ब्रश का हैड

 

Head of the brush

बेबी ब्रश

 

Baby brush

अंतिम वाले दांतों को

 

Teeth in the back of the mouth

ब्रश अगर जरा सी भी फैल जायें

 

If the brush starts to lose its shape

transcription (hindi): 

एक और, हमें एक कन्फ्यूज़न कभी कभी लगता है कि मार्किट में इतने तरह के ब्रश अब मिलने लगे हैं... कुछ पहले होते थे सीधे ब्रिसल्स होते थे, अब टेढ़े-मेढ़े ब्रिसल्स वाली बात करते हैं... तो कौन से ब्रश करने चाहिये?

मेरे खयाल से टेढ़े मेढ़े ब्रश जो अब बनने लगे हैं, थोड़े से ऊबड़-खाबड़ टाइप के, उसको करने में कोई बुराई नहीं है क्योंकि थोड़ा सा उनके reach अच्छी है... ब्रश लेने के लिये देखिये दो तीन चीजें हैं... पहली तो ये है कि ब्रश मीडियम लेना चाहिये या सॉफ्ट लेना चाहिये... हार्ड ब्रश से दाँत कट जाते हैं, हार्ड ब्रश avoid करें... सुपर सॉफ्ट ब्रश ऐसे लोगों के लिये है, जिनके दांत बहुत sensitive हैं, जिनको बहुत पानी लगता है, हवा भी बर्दाश्त नहीं होती है... तो उनके लिये सुपर सॉफ्ट ठीक है... नार्मल हम लोग के लिये सुपर सॉफ्ट ब्रश से जनरल पब्लिक को satisfaction भी नहीं मिलता और वो जरूरत भी नहीं होती है... तो मीडियम या सॉफ्ट ब्रश ले लें... दूसरी बात, ब्रश का हेड बहुत छोटा नहीं होना चाहिये... जो हैड होता है ब्रश का, उसकी लंबाई ठीक ठाक होनी चाहिये ताकि वो आपके दांतों की एक बार में अच्छे से साफ कर सके... तीसरा, अगर मान लीजिये अंतिम वाले दांत, जो एकदम पीछे वाले, कॉर्नर वाले दांत हैं, उनकी सफाई नहीं हो पा रही है, तो ऐसे ब्रश का साथ ही में इस्तेमाल करें... अलग से... जिनके हैड्स बहुत छोटे हैं या तो बेबी ब्रश ले लें... या ऐसा कोई भी ब्रश, जो कंपनियों के, जो छोटे छोटे हैड्स देते हैं आपको... ऐसी भी कंपनियों के आते हैं... तो...

लाईट आप... जी डॉक्टर साहब... आप बता रहे थे कि वो छोटे ब्रश का इस्तेमाल...

बेबी-ब्रश से जो है उन अंतिम वाले दाँतों को साफ कर लेना चाहिये... तीसरी बात मैं ये कहूंगा कि ब्रश अगर ज़रा से भी फैल जाएँ तो उनको discard करके नया ब्रश ले लें... उसी ब्रश को ही इस्तेमाल ना करते रहें... जैसे ही ब्रिसिल्स उसके फैल जायें, उसको discard कर देना चाहिये...

एक और तरह के ब्रश जो प्रचलित शहरों में ज्यादा हैं, वो हैं motorized जो, उनका आगे का हिस्सा घूमता रहता है... वो इस्तेमाल करने चाहिये या नहीं करने चाहिये?

कर सकते हैं, कोई बुराई नहीं है... उनके जो प्रेशर होता है, वो जितने पाउंड्स का प्रेशर चाहिये है दांत पर करने के लिये, उतने ही पाउंड्स का प्रेशर उसमें feed in होता है... उसको करने में कोई बुराई नहीं है...

exercise (hindi): 

1) कौन से ब्रश का आमतौर पर इस्तेमाल करना चाहिये?

१) सॉफ़्ट ब्रश

२) हार्ड ब्रश

३) मोटोराइज़्ड ब्रश

४) सुपर साफ़्ट ब्रश

2) ब्रश का हैड आमतौर पर कैसा होना चाहिये?

१) ब्रश के हैड की लम्बाई ठीक-ठाक होनी चाहिये

२) बिल्कुल छोटा होना चाहिये

३) बेबी ब्रश होना चाहिये

४) ब्रश जिसके हैड्स लम्बे और छोटे दोनो हों

vocabulary (urdu): 

content under development

transcription (urdu): 

content under development

exercise (urdu): 

content under development

Dentistry - Dr. Sanjeev Gulati: 5

mediaURI: 
About This Lesson: 
Dr. Sanjeev Gulati speaks of the kinds of tooth pastes to use.
vocabulary (hindi): 

फ्लोराइड टूथ पेस्ट 

 

Fluoride toothpaste

पोटाशियम नाइट्रेट

 

Potassium nitrate

स्ट्रांशियम फ्लोराइट

 

 

मैडिकेटिड पेस्ट

 

Medicated paste

transcription (hindi): 

और जो पेस्ट मिलते हैं, वो ठीक हैं?

पेस्ट ठीक हैं...

किस तरह के, किस तरह के होने चाहियें क्योंकि वो भी विभिन्न प्रकार के पेस्ट, आपको मार्किट में नज़र आते हैं?

ये देखिये, बेसिकली एक तो फ़्लोराइड टूथ पेस्ट है, तो वो भी अच्छा है... आजकल desensitizing पेस्ट बहुत सारे हैं बाजार में... और desensitizing से, मतलब ये जो पानी लगने के लिये होते हैं पेस्ट... जैसे आपका ये, ये, तमाम पोताशियम नाइट्रेट के हैं, स्ट्रांशियम फ़्लोराइट के हैं पेस्ट... तो पब्लिक जब भी दुकानदार के पास जाती है तो फिर पूछती है, भई कोई अच्छा पेस्ट बताओ... तो वो सोचता है कि ये मेडिकेटेड पेस्ट है, ये दे दो... ये बहुत अच्छी चीज है... तो in fact वो पेस्ट long term नहीं use करना चाहिये... उसको थोड़े समय के लिये use करें... और normal course में जो आपके general पेस्ट आते हैं बाजार में, जो आपको प्रोविजनल स्टोर्स पर मिलते हैं, वो पेस्ट ज्यादा इस्तेमाल करने चाहिये...

यानि सफेद, जो भी...

सफेद जो भी पेस्ट मिलते हैं अच्छी अच्छी कंपनियों के मिलते हैं, वो सारे पेस्ट अच्छे हैं... सब बराबर काम करते हैं... एडवरटाईज़मेंट में जितना भी शो करें, ये ज्यादा है, ये कम है, लेकिन वो सब बराबर काम करते हैं...

exercise (hindi): 

1) कौन सा पेस्ट इस्तेमाल करना चाहिये?

१) डिसेन्सिटाईज़ पेस्ट

२) मेडिकेटिड पेस्ट

> ३) जनरल पेस्ट

४) कलर पेस्ट

vocabulary (urdu): 

content under development

transcription (urdu): 

content under development

exercise (urdu): 

content under development

Dentistry - Dr. Sanjeev Gulati: 4

mediaURI: 
About This Lesson: 
Dr. Sanjeev Gulati provides further examples of the kinds of tooth-powders used in rural India, and their effects.
vocabulary (hindi): 

फाइब्रोसिस 

 

Fibrosis

पान

 

Betel leaf

पान मसाला

 

Betel filling/stuffing

तंबाकू

 

Tobacco

नशा

 

addiction

दंत मंजन

 

Powder for brushing the teeth

पेस्ट

 

Paste

खास तौर पर

 

Specially

गेरू

 

Saffron

आयुर्वेद

 

Ayurveda

बेशक

 

Indeed

दांत को काट करके खत्म कर देते हैं

 

Effects the bone around the teeth resulting in losing the teeth

रंगीन पाउडर

 

Colored powder

लत

 

Habit/addiction

फिलिंग

 

Filling

ईलाज

इलाज

Treatment

transcription (hindi): 

जहां पर प्रचलित ज्यादा है और किस एरिया में लगता है आपको?

ये हमारे यू.पी., बिहार, महाराष्ट्र या देहली साड में, इन सब जगहों पे इसका प्रचलन बहुत ज्यादा है और इसी की वजह से फ़ाइब्रोसिस बहुत ज्यादा है... क्योंकि हम तो कहेंगे कि जो बाकी जगहों पर, कंट्री में फैला हुआ है, यू.पी., बिहार से ही ज्यादा गया है क्योंकि यहां के लोग शुरू से ही, ये पान, पान-मसाला, तम्बाकू,ये सब बहुत खाते थे... तो, लेकिन अब तो हैबिट बहुत सारे स्टेट्स में लोगों को पड़ गई है... स्पेशली जब से वो पाउचिस छोटे छोटे चले हैं, एक एक रुपये वाले, तो सब आदमी अफोर्ड कर लेते हैं, गरीब से गरीब आदमी भी अपना नशा उससे कर लेता है...

अमूमन दो तरह के दंत-मंजन देखे जाते हैं... एक पाउडर फॉर्म में आता है, एक मंजन जो कि प्रचलित है ही मेरे खयाल से रूरल एरियाज़ में भी... और दूसरा पेस्ट है... तो किस तरह के मंजन इस्तेमाल करने चाहिये दांतों को भला रखने के लिये?

देखिये ख़ास तौर पर हम यही कहेंगे कि जो रंगीन मंजन बाजार में उपलब्ध हैं, अच्छी अच्छी कंपनियों के उपलब्ध हैं, ये ज्यादातर काफी aggressive material use करते हैं... जैसे कि गेरू है या और चीजें हैं, भले ही आयुर्वेद में, बेशक हमारे ऋषि मुनियों की अच्छी रिसर्च रही होगी, लेकिन मैं, मेरा ये मानना है कि ये बहुत ही अच्छे और तगड़े aggressive abrasives हैं... ये दाँत को काट कर के ख़त्म कर देते हैं... और यही वजह है कि काफी, और इन रंगीन मंजनों में अक्सर तम्बाकू मिला रहता है... अगर आप इनके डब्बे में, पैकिंग में देखेंगे, जो बहुत प्रचलित मंजन हैं, मैं उनकी बात कर रहा हूं... जो बाजार में बहुत चलते हैं... जो बच्चे भी करते हैं... जो पाउडर, जो रंगीन पाउडर मिलते हैं, नाम नहीं लेना चाहता मैं... रंगीन पाउडर मैं बता रहा हूं, जो बाजार में खूब मिलते हैं... उनके डब्बों पे आप देखेंगे तो वो लिखा रहता है कि तंबाकू है... T A M B A K H U इंग्लिश में लिखे रहते हैं वो लोग... जो उनके ingredients हैं... तो उसके, वो मंजन जो है वो घर में सब लोग कर रहे हैं, मतलब बड़े बूढ़े भी कर रहे हैं और छोटे छोटे बच्चे भी कर रहे हैं उस मंजन को... तो एक तो बिना मतलब, छोटी उम्र में वो तंबाकू की लत पड़ जाती है... उसके बाद फिर वो बच्चे भी, वो ही मंजन उनको अच्छा लगता है... जो जब बड़े भी हो जाते हैं तब भी वो हमेशा उसी मंजन के लिये, training बन जाती है उस मंजन के लिये...

और वो और कोई मंजन करें ना करें लेकिन उसको जरूर करते हैं साथ में... और वो ऐसे strong abrasives हैं, तो training बन जाती हैं उस मंजन के लिये... और वो और कोई मंजन करें ना करें वो उसको जरूर करते हैं साथ में... और वो ऐसे strong abrasives हैं जो दांत को काट डालते हैं... काफी लोगों के, गांव वालों के, बेचारों के दांत कटे मिलते हैं... फिर उनकी वो फ़िलिंग कराते हैं, दस इलाज कराते हैं... ये सब चीजें हैं...

exercise (hindi): 

1) रंगीन मंजन से दांतों को क्या नुकसान होता है?

१) दाँत कट कर खत्म हो जाते हैं

२) छोटी उम्र में तंबाकू की लत पड़ जाती है

३) तंबाकू से लत बन जाती है

४) सब होता है

vocabulary (urdu): 

content under development

transcription (urdu): 

content under development

exercise (urdu): 

content under development

Dentistry - Dr. Sanjeev Gulati: 3

mediaURI: 
About This Lesson: 
Dr. Sanjeev Gulati reflects on the main national causes for dental illness.
vocabulary (hindi): 

दंत चिकित्सा 

 

Dentistry

अमूमन

 

Generally

दायरा

 

Boundary

चरण

 

Stage

इम्तहान

 

Exam/Test

मुख्यत:

 

Mainly

गम्स की डिसीज़

 

Gum Disease

पायरिया

 

Pyorrhea

केरीज़

 

 

दांत का सड़ना

 

Tooth decay

कुल्ला कर

 

Rinsing of mouth

खाने के कण फंस जाते हैं

 

Particles of food get stuck in the mouth

खोडिला

 

Cavity

ओरल हाईज़ीन

 

Oral hygiene

transcription (hindi):